Type Here to Get Search Results !

दोस्ती और दुश्मनी (hindi moral stories)

Dosti aur Dushmani: दोनों ने एक-दूसरे पर जमकर हमला बोला और फिर कुछ ही देर में दोनों में मारपीट हो गई। Hindi moral stories

Dosti aur Dushmani दोस्ती और दुश्मनी

एक घने जंगल में एक दलदल के पास एक चूहा और एक मेंढक बरसों से रहते हैं। और बरसो से दोनो में बहुत गहरी दोस्ती थी। एक दिन बातचीत के दौरान मेंढक ने चूहे से कहा, की जहां में और तुम रहते है वो मेरी विरासत है। Dosti aur Dushmani

इस पर चूहे ने मेंढक को जवाब दिया की "मेरा परिवार यहां सैकड़ों वर्षों से रहा है और मुझे भी यह स्थान अपने पूर्वजों से विरासत में मिला है और यह मेरी विरासत है।" Dosti aur Dushmani

यह सुनते ही मेंढक को गुस्सा आ गया और गुस्से में चूहे को कुछ कुछ कहने लगा। बात इतनी बढ़ गई कि उनकी दोस्ती टूट गई और उन्होंने आपस में बात करना बंद कर दिया। Hindi moral stories

एक दिन एक चूहा मेंढक के सामने से गुजरा और मेंढक ने उस पर शोर मचा दिया और अनाप शनाप बोलने लगा जिससे चूहे को बहुत बुरा लगा। और वो बेचारा चूहा काफी डर गया। उसने जा कर मेंढक के दोस्त चूहे से शिकायत की। चूहे ने तय कर लिया की वो मेंढक से बदला लेगा। Hindi moral stories

चूहे ने तय किया कि वह घास में छिप जाएगा और जब मेंढक उसके पास से गुजरेगा तो वह उस पर हमला करेगा। चूहे ने ऐसा ही किया। लेकिन इन दोनो हरकत से दोनो में दुश्मनी और ज्यादा बढ़ गई। Hindi moral stories

अब दोनो आमने सामने आगए और एक दूसरे को खुली चुनौती दे डाली। मेंढक ने कहा की सामने के खेत में आ जाओ एक खुली प्रतियोगिता करने के लिए और वहा देखते है कौन ज्यादा ताकतवर है। Hindi moral stories
चूहे ने इसे स्वीकार कर लिया और अगली सुबह प्रतियोगिता का समय तय हो गया। नियत समय पर चूहा एक तरफ से निकला। उसके हाथ में ट्रांसमिशन प्लांट का एक लंबा तिनका था। दूसरी तरफ मेंढक आगे बढ़ा। उसके हाथ में वही लंबा तिनका। Dosti aur Dushmani

दोनों ने एक दूसरे पर जमकर हमला किया और फिर कुछ ही देर में दोनों में लड़ाई हो गई। लड़ाई अभी चल ही रही थी कि दूर से हवा में उड़ते हुए एक बाज ने देखा कि एक चूहा और एक मेंढक आपस में भिड़ रहे हैं। तेजी से उड़ते हुए वह नीचे आ गया। और एक झटके में दोनों पहलवानों को अपने नुकीले, नुकीले पंजों में ले लिया। और दोनो को ले जाकर खा गया। Dosti aur Dushmani

शिक्षा- दुश्मनी से बेहेतर दोस्ती होती है, कभी भी एक दूसरे की बुराई ना करे। और दुश्मन को कभी मौका ना दे। वरना मोका देखकर दुश्मन एक रोज दोनो को नुकसान पहुंचाएगा। Dosti aur Dushmani

ये भी पढ़े- 



#Dosti_aur_Dushmani #मेंढक #चूहा

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.