Type Here to Get Search Results !

Best Moral Stories in Hindi 2021: सास के नखरे

Best Moral Stories in Hindi (2021) 

सास के नखरे 

सास के नखरे  Moral Stories in Hindi

दोस्तों, आज में आपको एक Moral Stories in Hindi बताने जा रहा हु जो की सास के नखरे नाम से है तो चलिए बिना देरी करते हुए स्टोरी शुरू करते है | अभी-अभी प्रेमलता नई सास बनने जा रही थी, उसके बहू को लेकर बहुत से सपने थे। 1 दिन वो मोहल्ले की औरतों के साथ बैठती है तो मोहल्ले की ओरते उससे  बोलती हैं तुम इतनी खुश तो हो रही हो , लेकिन सास बनने के बाद तुम्हारी जिंदगी नर्क बन जाएगी बहू घर में आते ही पूरे घर पर अपना कब्जा कर लेगी, सारी चीजें अपने हिसाब से करेगी, तुम बस देखती रेह जाओगी ।

Moral Stories

तभी दूसरी औरत बोलती है मैंने भी देखा है ," जब बहुएं आ जाती है तो बेटे को भी अपने कब्जे में कर लेती हैं , उसके बाद नाही बेटा तुम्हारी सुनेगा और ना ही बहू "तुम्हें उसके बातें सुन्नी होगी, अब यह पहले का जमाना नहीं है जब सास अपनी बहुओं पर हुकुम चलाया करती थी । अब तो बहूऐ ही सास को चलातो हैं ।हम तो दोनों के बीच में पिस कर रह गई हैं, पहले सास की सुनी और अब बहू की सुनो ।

Bedtime Stories for Kids

इसलिए कह रही हूं प्रेमलता बहन अपनी बहू को कब्जे में रखना। उसी वक्त प्रेमलता की बेटी खुशबू आती है  वह भी कहती हैं " हां हां मां मैंने भी देखा कैसे बहुएं अपनी सास पर हुकुम चलाती है , उन्हें चैन की सांस भी नहीं लेने देती हैं "।

कुछ दिनों बाद प्रेमलता के बेटे मोहन की शादी प्रिया से हो जाती है। शादी के कुछ ही दिन हुए थे कि सुबह-सुबह प्रिया अपनी सास प्रेमलता के लिए चाय बना कर लाती है , वह जैसे ही चाय पीती है उसे थूक देती बोलती है इसमें कैसा अजीब सा स्वाद आ रहा है,  तो प्रिया यह जवाब देती है मां जी उन्होंने कहा था कि आपको शुगर की बीमारी है इसलिए मैंने चाय में चीनी नहीं डाल कर गुड का पाउडर डाला है । प्रेमलता बोलती है इतने दिनों से तो मुझे कुछ नहीं हुआ अब मुझे चाय से कैसे कुछ  हो जाएगा। तुम मुझे मेरी मनपसंद चीनी की चाय पीने से रोक  रही हो ।

Bacchon Ki Kahaniya

तभी खुशबू भी आ जाती है और बोलती है , "आपका कहने का मतलब क्या है हम हमारी मां का ख्याल नहीं रखते, वह इतने दिनों से चीनी की चाय पी रही है, उन्हें तो कुछ नहीं हुआ।प्रिया को समझते देर नहीं लगती कि दोनों मां बेटी के मन में बहू को लेकर किसी छवि है प्रिया वहां से चुपचाप चली जाती है । फिर कुछ दिनों बाद प्रिया घर के पर्दों को बदलती है तभी उसके साथ प्रेमलता आ जाती है और पूछती हैं यह तुम क्या कर रही हो ? टो प्रिया  उत्तर देती है कि मां जी मैं इन पर्दों को बहुत दिन से बदलने की सोच रही थी यह पर्दे बहुत ही हल्के हैं , इनसे बाहर से कोई भी झांक सकता है । तभी प्रेमलता कहती हैं , इतने सालों से तो किसी ने नहीं झांका तुम आ गई हो तो सब झाकेंगे  तभी ।

Bacchon Ki Kahani

खुशबू भी बोलती है भाभी कहीं आप यहां तो नहीं समझ रही कि आप कोई हीरोइन हो तो सब लोग आपको झांक कर देखेगे । प्रिया बिना कुछ बोले पर्दे बदलकर चली जाती है। खुशबू कहती है , देखा ना मां आपने अभी से कितने नखरे हैं इसके आपको बिना कुछ कहे पर्दे भी उतार दिए और चली भी गई। कुछ दिनों बाद प्रेमलता और खुशबू टहलने के लिए घर से बाहर जाती हैं तभी उनकी पड़ोसन तामसी दोनों से पूछते हैं क्या हुआ आजकल आप लोग नजर ही नहीं आते हो , बहू के आ जाने के बाद आपके दो दर्शन होना ही बंद हो गए ।

Moral Stories for Kids

प्रेमलता कहती है "बहू के आने से कोई फर्क नहीं पड़ा है और वैसे भी हम कहां पहले भी ज्यादा आते थे । तभी तामसी बोलती है खुशबू बेटा  और तुम्हारे बॉयफ्रेंड के कैसे हाल हैं, बहुत देर तक उससे फोन पर लगी रहती थी पहले वह वाले पर्दों में से  तो साफ-साफ देख लिया करती थी घर के अंदर क्या चल रहा है , और तुम दोनों कैसे अपनी बहू की खिंचाई करती थी वह भी देख लिया करती थी।  लेकिन आज-कल तुमने अपने पर्दे बदल दिए हैं तब से अंदर का कुछ दिखता ही नहीं है । यह बात सुनकर दोनों मां बेटी घर पर आ जाती है तभी वह देखती है कि प्रिया पुराने पर्दे वापस लगा रही है तो दोनों मां बेटी बोलती है ,अरे  यह पर्दे क्यों बदल रही हो ।

Hindi Kahaniya

तो प्रिया बोलती है , में  तो इसीलिए बदल रही हूं क्योंकि आपने बोला था कि आपको वो पर्दे पसंद है  और वह पर्दे गंदे हो चुके थे तो उन्हें सूखने के लिए डाले थे अब सुख चुके है इसलिए वापिस इन्हे ही लगा रही हूं । प्रेमलता बोलतो है , " अरे रहने दो ये पुराने वाले पर्दे , पर्दे कम cctv ज्यादा है ।

तुम हमारे लिए चाय बना लाओ बहू चाय बना कर लाती है ,जैसे ही प्रेमलता चाय पीती है वह बेहोश हो जाती है तभी खुशबू आती है और कहती है भाभी आपने चाय में क्या मिलाया था मेरी मां को क्या होगया। प्रिया तुरंत डॉक्टर को कॉल करती है उन्होंने मां की हालत के बारे में बताती है। डॉक्टर आते हैं और मां की जांच करते हैं।

Saas Bahu Stories

जब मां की जांच होती है तो पता लगता है कि उन्हें शुगर की बीमारी है और उनके शरीर में ज्यादा शुगर होने की वजह से वह बेहोश हो गई । यह बात सुनकर प्रिया बोलती है मैंने तो इन्हें कई बार शक्कर मिठाई और चीनी की कई चीजें खाने से मना किया था लेकिन यह है कि मानती ही नहीं ।

Moral Stories for Kids in Hindi

तभी खुशबू को अपने द्वारा किए गए व्यवहार के बारे में याद आता है कि जब प्रिया भाभी उसकी मां को चाय पीने से मना कर रही थी तब उसी ने ही भाभी को रोका था। दोनों मां बेटी को समझ में आ जाता है , कि उनकी बहू घर को तोड़ना  नहीं वह तो अपने घर को संजो कर रखना चाहती है । अब प्रेमलता को अपनी बहू  पर बहुत  नाज होता हैं।

हम उम्मीद करते हैं कि आपको Moral Stories in Hindi जरूर अच्छी लगी होगी | तो आप हमे अपनी राये Comment के माध्यम से जरुर दे, ताकि हम हमेशा आप सभी के लिए ऐसी और भी कहानिया ला सके, धन्यवाद |

Related Posts - 

1. Cinderella Ki Kahani

2. बीरबल की चतुराई

NOTE:- All information provided on this website are informative purpose only. Our Page will not be responsible for any errors in advertising on this website.

 

 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.