Best Cinderella Ki Kahani 2021

Cinderella Ki Kahani

दोस्तों आज में आपको Cinderella Ki Kahani बताने जा रहा हु तो चलिए बिना देरी करते हुए स्टोरी शुरू करते है |

बहुत समय पहले की बात एक छोटे से राज्य में एक अमीर व्यपारी और उसका परिवार रहता था । उनका परिवार बहुत खुशी से रहता था। उस आदमी के पास पैसों की कोई कमी नहीं थी उसकी एक छोटीसी लड़की थी जिसका नाम ऐला था। वह अपना जीवन बहुत ही खुशहाली से व्यतीत कर रहे थे। लेकिन किसी बीमारी की वजह से व्यपारी की पत्नी शांत हो गई। अब दोनों बाप और बेटी साथ में जीवन व्यतीत कर रहे थे । ऐला के पिता उसे खुश रखने की बहुत कोशिश करते थे , लेकिन उसके पिता को लगने लगा था कि उसकी लड़की, मां के जाने के बाद खुश नहीं है ,इसलिए उसने दूसरी शादी करने का फैसला लिया ,ताकि ऐला वापिस खुश रह सके। 

The Story of Cinderella in Hindi 

और वह व्यापारी दूसरी शादी कर लेता है । उसकी नई पत्नी की दो बेटियां पहले से ही होती है उसकी नई मां उसकी दोनों लड़कियों के साथ साथ उसे भी बहुत अच्छे से रखती थी । अब ऐला ओर उसका परिवार बहुत ही खुशहाली से रहने लगा था और व्यापारी को उसकी लड़कियों की कोई चिंता नहीं थी क्युकी उसकी पत्नी तीनों लड़कियों को समान रूप से पालती थी । 

Cinderella Ki Kahani in Hindi 
 
अब एक ऐसा वक्त आया जब व्यापारी को व्यापार के लिए किसी दूसरे राज्य में जाना था । वो भी बहुत दिनों के लिए लेकिन उसे अब कोई चिंता नहीं थी क्योंकि उसके पीछे उसकी नई बीवी उसकी लड़कियों का ख्याल रखने के लिए वहां पर थी इसलिए वह बिना कोई चिंता किए व्यापार के लिए चला जाता है इसी के बाद उसकी नई पत्नी का असली रूप सामने आता है अब ऐला की नई मा ऐला पर घर के सारे काम कराने लगती है और उसकी दोनों बेटियां आराम से घर में रहती।अब दिन-ब-दिन ऐला की हालत खराब होती जा रही थी क्योंकि उसे काम भी करना पड़ता था और खाने के लिए भी उसे तीनों मां बेटियों को बचा हुआ खाना पड़ता था । 

Fairy Tales in Hindi Cinderella 

Cinderella Ki Kahani in Hindi


तीनों मां बेटियां उससे कहती रहती थी कि तुम कितनी गंदी हो तुम कभी भी अच्छे कपड़े नहीं पहनती हो तुम्हारा चेहरा भी खराब हो चुका है और उसे कहने लगी तुम सिंड्रेला तभी से उसका नाम उन्होंने सिंड्रेला रख दिया। काम करने के बाद वह खाली वक्त में अपनी खिड़की के पास बैठती ,खाली वक्त में वहां पर एक चिड़िया और दो चूहे आ जाते थे और वहां सिंड्रेला के अच्छे दोस्त बन जाते है । वह बचे हुए खाने में से उन सब को भी खिलाती है। एक दिन राज्य में यह सूचना दी गई की राजकुमार ने नए वर्ष की पूर्व संध्या के लिए एक पार्टी का आयोजन किया है जिसमें वह अपने लिए राजकुमारी को पसंद करेंगे । 

Cinderella Cartoon Hindi 

यह बात सुनकर सिंड्रेला भी बहुत खुश होती है उसका भी पार्टी में जाने का बहुत मन होता है लेकिन उसे लगता है कि उसकी सौतेली मां उसे पार्टी में नहीं जाने देगी , फिर भी उसने उसकी सौतेली मां से पूछा उसकी सौतेली मा हंसने लगी और बोली चलो ठीक है तुम भी पार्टी में जा सकती हो लेकिन पहले तुम्हें मेरी दोनों बेटियों को पार्टी के लिए तैयार करना होगा वह दोनों लड़कियों को पार्टी के लिए तैयार करती है उसके बाद , सिंड्रेला उसकी सौतेली मां से जाने का पूछती है लेकिन उसकी सौतेली मां उसे फिर से एक काम बता देती है और उसकी बात को टाल देती है। 

Pariyon Ki Kahani Cinderella 

यह बात सुनकर उसके तीनों दोस्त चूहे और चिड़िया वहां पर आकर उसके काम में मदद करने लगते हैं और जल्दी से उसका काम खत्म करा देते हैं । फिर से सिंड्रेला उसकी सौतेली मां के पास जाती है और पार्टी में जाने के लिए पूछती है, तो उसकी सौतेली मां यह कहकर मना कर देती है कि तुम बहुत ही गंदी दिखती हो अगर हम तुम्हें वहां पर ले जाएंगे तो हमारी इज्जत कम हो जाएगी यह कहकर उसकी मां उसे कमरे में बंद करके चली जाती है लेकिन उसी वक्त वह छोटी सी चिड़िया उसकी मां की कमर से चाबी को चुरा लाती है और सिंड्रेला को कमरे की चाबी दे देती है सिंड्रेला दरवाजा खोलकर नीचे आती है तब तक तीनों मां बेटियां वहां से जा चुकी होती है । 

Written Story of Cinderella in Hindi 

अब उसके पास पार्टी में पहुंचने के लिए बहुत ही कम वक्त बचता है वह सोचती है कि शायद वह पार्टी में नहीं पहुंच पाएगी लेकिन तभी उसे उदास देखकर एक परी आती है और उससे पूछती है कि तुम्हें क्या दिक्कत है तभी सिंड्रेला उसे सारी बात बताती है । तो परी कहती है तुम्हें चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है। परी आसपास की चीजों से उसके लिए एक गाड़ी तैयार करती है और दोनों चूहों को घोड़े में तब्दील कर देती हैं और चिड़िया को उसका सार्थी बना देती है लेकिन अभी भी सिंड्रेला बहुत गंदी लग रही थी तो परी उसे अपनी जादुई शक्तियों से अच्छे कपड़े पहना देती है और उसे पार्टी के लिए तैयार कर देती है। 

Story of Cinderella in Hindi 

जैसे ही सिंड्रेला जाने लगती है परी उसे चेतावनी देती है कि मेरा जादू सिर्फ 12:00 तक ही रहेगा अगर तुम 12:00 बजे से पहले नहीं आती हो तो मेरा जादू खत्म हो जाएगा । सिंड्रेला उसकी बात को अच्छे से सुनती है और वहां से चली जाती है । 
 
सिंड्रेला जब तक पार्टी में पहुंचती है लगभग वह पार्टी खत्म हो चुकी होती है जैसे ही सिंड्रेला अंदर जाती है सारे लोग उसे ही देखते रह जाते हैं और राजकुमार भी उसे देखकर हैरान रह जाते हैं और वह सिंड्रेला से डांस के लिए पूछे बिना नहीं रह पाते है सिंड्रेला भी उन्हें हां कर देती है उनके साथ डांस करती है लेकिन डांस करते वक्त उसे वक्त का ख्याल आता है और वह जब घड़ी की तरफ देखती है तो 12:00 बजने में सिर्फ 5 मिनट का समय बचता है वह राजकुमार से कहती है कि मुझे अब जाना होगा मेरा समय पूरा हो चुका है और वह पार्टी से जल्दी-जल्दी निकल जाती है जल्दबाजी में सिंड्रेला की एक जूती वहीं पर रह जाती है सिंड्रेला के पास इतना वक्त नहीं होता है कि वह उसकी जूति को उठाए ,वह उसे बिना उठाए ही अपनी गाड़ी में बैठकर निकल जाती है राजकुमार उसका पीछा करते हुए आते हैं लेकिन तब तक सिंड्रेला जा चुकी होती है । 

Story of Cinderella in Hindi Language 

राजकुमार उसकी जूती को उठाते हैं अपने सैनिकों से बोलते हैं कि यह जूती जिस किसी लड़की के पैर में सही से आएगी मैं उसी से शादी करूंगा अगले दिन वे अपने सैनिकों के साथ अपने राज्य में उस जूति को लेकर उस लड़की की खोज में चल पड़ते राजकुमार और उनके सैनिक काफी लड़कियों के पैर में जूती पहना कर देख चुके होते हैं लेकिन वहां जूती किसी भी लड़की के पैर में सही नहीं बैठती है आखिर में वह सिंड्रेला के घर पहुंचते हैं यह देखकर सिंड्रेला नीचे आने की कोशिश करती है लेकिन उसकी मां उसे बीच में ही रोक देती है और बोलती है तुम बहुत गंदी लग रही हो और राजकुमार के सामने आओगी तो हमारी इज्जत कम हो जाएगी और ना ही तुम पार्टी में गई थी तो वह जूती तुम्हारे पैर में आए यह कहकर वह राजकुमारी को ऊपर भेज देती हैं | 

Cinderella Story in Hindi Written 

The Story of Cinderella in Hindi


जब राजकुमार सिंड्रेला की सौतेली मां से पूछते हैं कि घर में कौन-कौन है तो उसकी मां बोलती है घर में मैं और मेरी दो बेटियां हैं सैनिक दोनों बेटियों के पैर में जूती पहना कर देखते हैं लेकिन वह जूती किसी भी लड़की के पैर में नहीं आती है तभी सिंड्रेला आवाज देती है कि राजकुमार मैं अभी बाकी हूं और सिंड्रेला नीचे आती है तब राजकुमार सौतेली मां से बोलते हैं कि तुमने हमारे साथ छल किया है तुम्हारे घर में एक और लड़की है और तुमने हमसे झूठ बोला इसकी सजा तो हम तुम्हें बाद में देंगे पहले राजकुमार अपने ही हाथों से सिंड्रेला के पैरों में जूति पहनाते हैं और भारत ज्योति बहुत ही आसानी से सिंड्रेला के पैरों में जम जाती है। 

राजकुमार उसे पहचान लेते हैं और बोलते हैं वह तुम ही थी जो पार्टी में मेरे साथ डांस कर रही थी। इतना कहकर राजकुमार सिंड्रेला को अपने साथ ले जाते हैं और तीनो मां बेटियों को कारागार में डाल देते हैं। सिंड्रेला राजकुमार के साथ बहुत ही हंसी खुशी से रहने लगती है। 

हम उम्मीद करते हैं कि आपको Cinderella Ki Kahani जरूर अच्छी लगी होगी | तो आप हमे अपनी राये कमेंट के माध्यम से जरुर दे, ताकि हम हमेशा आप सभी के लिए ऐसी और भी कहानिया ला सके, धन्यवाद | 

Related Posts - 


NOTE:- All information provided on this website are informative purpose only. Our Page will not be responsible for any errors in advertising on this website.

Post a Comment

0 Comments